Location

606A, Union Heights, Beside Rahul Raj Mall, Vesu, Surat – 395007, Gujarat, India.
Buy Now

Blog

Agriculture
fruit cover

आम के फल गिरने का कारण और उसके समाधान

आम का सेवन किसे पसंद नहीं है? शायद पूरे विश्व में केवल आम ही एक ऐसा फल है जिसका सेवन हर उम्र और प्रजाति के लोग सबसे अधिक करना पसंद करते हैं। कच्ची कैरी से लेकर पूर्ण तौर पर परिपक्व होने तक की हर अवस्था के आम का अलग-अलग प्रकार से सेवन किया जाता है, जैसे कि अचार, चटनी और फल इत्यादि। केवल इंसानों को ही नहीं, आम खाना तो पशु-पक्षियों और जीव-जंतुओं को भी पसंद है। यह आम की फसल को पहुँचने वाली क्षतियों के मुख्य कारणों में से एक है। 
आम की लोकप्रियता ही उसके सभी फलों का राजा कहलाए जाने का एक मुख्य कारण है। किन्तु अस्पष्टीकृत मौसम परिवर्तन और उसके फलस्वरूप पैदा होने वाली प्राकृतिक आपदाओं के कारण फलों के इस राजा का सिंघासन डोलता हुआ नज़र आ रहा है। प्राकृतिक चुनौतियों के कारण आम के उत्पादन में भारी गिरावट दर्ज की गई है जिसके कारण बागबानों और किसानों को बहुत हानि का सामना करना पड़ रहा है।  

आइए जानते हैं कि ऐसा क्यों हो रहा है और आम की फसल को नष्ट होने से बचाने के क्या उपाए उपलब्ध हैं। आम की फसल का नष्ट होने का मुख्य कारण है अत्यंत गर्मी और गरम हवाओं का चलना। आम की फसल का अत्यधिक झड़न मई महीने में होता है जब गर्मी अपने चरम पर पहुँचने लगती है। ऐसे में बागबानों को आम के पेड़ों को गर्मी से बचा कर रखना चाहिए।

आम के फलों का झड़ना एक बहुत ही गंभीर समस्या है। आम में लगभग 99 प्रतिशत फल विभिन्न चरणों में गिर जाते है और मात्र 0.1 प्रतिशत फल ही परिपक्व अवस्था तक पहुँच पाते है। अत्याधिक फलों का गिरना आम की उत्पादकता पर विपरीत असर डालता है। फलों का गिरना किस्म विशेष, निषेचन की कमी, द्विलिंगी पुष्पों की कमी, अपर्याप्त परागण, पराग कीटों की कमी, फलों की पोषक तत्वों के लिए प्रतिस्पर्धा और बाग़ में नमी की कमी के कारण प्रभावित होता है। सामान्यत: आम की लगभग सभी किस्मों में यह समस्या समान रूप से पाई जाती है।

आम के झड़न की विभिन्न अवस्थाएँ

1. पिन हैड अवस्था:

कीटाणुओं का प्रकोप आम का पिन हेड अवस्था में झड़ने के कई कारणों में से एक है। पिन हेड अवस्था में फल झड़न अप्रैल के प्रथम सप्ताह में शुरू हो जाता है। इस अवधि में अधिकतर फल पेड़ से झड़ जाते है। झड़ने वाले फलों में फूल की सूखी पंखुड़ियाँ तथा सिकुड़े हुए फल भी शामिल होते है। इस अवस्था में गिरने वाले फलों का आकार पिन के सिरे के समान होता है। मूल रूप से अपर्याप्त परागण वाले फल इस अवधि में गिर जाते है।

2. फल स्थापित होने के बाद:

इस अवधि में 4 मि.मी. व्यास से अधिक आकार के फल पौधों से झड़ जाते है। अप्रैल के अंतिम सप्ताह में फलों का झड़ना बंद होता है।

3. मई में फलों का झड़न:

इस अवधि में गिरने वाले फलों से बागवानों को अधिकतम हानि पहुँचती है क्योंकि इस समय फल तोड़ने के लिए तैयार हो चुके होते हैं। फल झड़न पूरे मई में जारी रहता है इसलिए इसे जून ड्रॉप के नाम से भी जाना जाता है।

फल झड़न के कारण

1. नमी

उच्च तापमान तथा तेज हवाओं के चलने से पानी का अधिक वाष्पीकरण होता है जिससे पत्ते मुरझा जाते है तथा फल गिरने की समस्या उत्पन्न हो जाती है। आम की दशहरी किस्म पर किये गये शोध में यह पाया गया है कि नियमित सिंचाई से इस समस्या को कम किया जा सकता है ओर साथ मे प्लास्टिक मलचिंग का प्रयोग करने से पौधे मे नमी बरकरार रहेती हे
आज कल प्लास्टिक मल्च का प्रयोग किसान अपने खेत पर करने लगे हे ओर कम खर्चे मे ज्यादा उत्पाद लेने लगे हे  जिससे सिंचाए की समस्या का समाधान मिल सकता हे ओर फलो की  जडन की समस्या का समाधान मिल सकता हे ओर क्वालिटी फल मिलने से मार्केट मे अच्छा दाम मिलता हे

2. पोषक तत्वों की कमी

तेजी से बढ़ रहे फलों को अधिक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। इसी कारण फलों की आपस में स्पर्धा होती है। ऐसे फल जिन्हें नियमित तथा संतुलित मात्रा में पोषक तत्व नहीं मिल पाते वृक्षों से गिर जाते हैं।

समाधान:

1. सिंचाई

इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप नियमित रूप से सिंचाई कर सकते हैं। नियमित रूप से सिंचाई करने से आम के पौधों को समय-समय पर पानी की खुराक मिलती रहती हैं इससे फल झड़ने की समस्या को कुछ हद तक रोका जा सकता है
2. पोषक तत्वों की खुराक
आम के फलों के झड़ने का दूसरा कारण यह भी होता है कि आम के पौधों को सही रूप में पोषक तत्व नही मिले हो। इसके लिए आप समय-समय पर जरूरतमंद पोषक तत्व की खुराक पौधों में डालें।

3. मेंगो शील्ड कवर:

इन सभी समस्याओं का निवारण आम के फलों के ऊपर नॉन वूवन का शील्ड कवर पहनाकर इन्हें अधिक गर्मी से बचाकर किया जा सकता है।

मेंगो शील्ड कवर का नियमित उपयोग:

  • मच्छरों, चींटियों और अन्य कृषि कीड़ों से आम के फल की रक्षा करता है।
  • आम के फलों को पक्षियों, बंदरों और अन्य जानवरों से बचाता है।
  • प्रदूषण, रासायनिक स्प्रे, उर्वरक, बारिश, सूरज की रोशनी और हवाओं से सुरक्षा देता है।
  • फल पे लगने वाले काले धब्बे, फलो को जमीन पर गिरने और क्षतिग्रस्त होने से बचाता है।
  • फल का सही रंग, वज़न, उत्पादन और अच्छी गुणवत्ता सुनिश्चित कर, बाज़ार में किसान को अच्छे दाम दिलवाता है।

आज ही Growit का मैंगो शील्ड कवर अपनाइये, आम की अपनी ख़ास फसल को क्षति से बचाइए।  

Leave a Comment

×